Breaking News

जिला चिकित्सालय मे दलाल सक्रिय, मरीज बेहाल

बहराइच । जिला संयुक्त चिकित्सालय मे ग्रामीण अंचलो से आने वाले मरीज व उनके तीमारदारो को चिकित्सा कार्य अवधि मे मरीज दिखाने व इलाज कराने हेतु भटकना पड़ता है एैसे मे वहां मौजूद दलालो द्वारा मरीजो को बहकाकर निजी चिकित्सालय भेज दिया जाता है।
प्रातः 8 बजे से 2 बजे तक चिकित्सालय कार्यअवधि मानी जाती है एैसे समय लगभग सभी चिकित्सक अपने-अपने कमरो मे बैठकर मरीज देखते है और उनके पास मरीजो की भारी भीड़ उनके कक्ष मे एकत्र हो जाती है। गम्भीर रोगी जब उनके कक्ष मे पहुंचते है तो नम्बर आने की प्रतीक्षा मे उन्हें बैठना पड़ता है और वे यदि बैठने की स्थिति मे नही है तो उन्हें आपातकाल रोगी कक्ष मे चिकित्सको को दिखाने के लिये मजबूर होना पड़ता है। रोगी जब आपातकाल चिकित्सा कक्ष मे पहुंचता है तो प्रायः चिकित्सक गायब मिलते है।
चिकित्सा कक्ष मे ही उनकी दलालो से भेंट हो जाती है और दलाल मर्ज पूछकर उन्हें अपने हिसाब से निजी नर्सिग होमो मे पहुंचा देते है अथवा उपर की रकम तय करने के बाद उन्हें चिकित्सको के डियूटी कक्ष मे ही ले जाकर दिखा देते है और चिकित्सक को दिलायी गयी फीस मे अपना हिस्सा ले लेते है। मरीज अथवा मरीज के तीमारदार यदि इस पर नही तैयार होते है तो उन्हें विभिन्न परेशानियों से होकर गुजरना पड़ता है और रोगी को दिखाने से लेकर इलाज तक परेशानियो के दौर से गुजरना पड़ता है।